ktvvns
अन्य शिक्षा

बालश्रम और मानव तस्करी मुक्त गाँव बनाने के लिए एक्शन एड के साथ हुई कार्यशाला सह बैठक

बाल संरक्षण के मुद्दों पर बने गंभीर और संवेदनशील बच्चों को भिक्षावृत्ती से मुक्त कर शिक्षा दिलाएं : जया सिंह

वाराणसी: एक्शन एड, जिला बाल संरक्षण समिति की ओर से राज्य बाल अधिकार संरक्षण आयोग की सदस्य जया सिंह की उपस्थिति में विकास भवन सभागार में बाल अधिकार व बाल संरक्षण के मुद्दों पर कार्यशाला सह बैठक का आयोजन हुआ। इसमें बाल संरक्षण इकाई, मानव तस्करी विरोधी यूनिट, बाल कल्याण समिति, शिक्षा विभाग, चाइल्ड लाइन, महिला कल्याण तथा बाल संरक्षण सेवा, मण्डलीय बाल संरक्षण सलाहकार यूनिसेफ एवं राजकीय सहित विभिन्न स्वैच्छिक संगठनों के प्रतिनिधियों व बाल अधिकार, जिला बाल संरक्षण समिति आदि से बाल अधिकार संरक्षण मुद्दों पर हो रहे कार्यो की समीक्षा हुआ। जया सिंह ने बाल भिक्षावृत्ती, बालश्रम से ज़िले को मुक्त कराने के लिए श्रम विभाग, पुलिस, ज़िला बाल संरक्षण ईकाई व स्वयंसेवी संस्थाओं के साथ मिलकर कार्ययोजना तैयार का निर्देश दिया। भिक्षावृत्ती से बचाए गए बच्चों के पुनर्वास की व्यवस्था बनाएँ। जिन बच्चों को बचाया जाए, उस मामले में आरोपित पर मुक़दमा भी दर्ज कराएं और बच्चों का स्कूल में एडमिशन भी करें।

बैठक सह कार्यशाला में दी बाल संरक्षण की जानकारियां

एक्शन एड स्टार परियोजना के जिला समन्वयक राजकुमार गुप्ता ने स्मृति चिन्ह देकर कार्यशाला में शामिल राज्य बाल अधिकार संरक्षण आयोग की सदस्य जया सिंह का स्वागत कर कार्यक्रम की शुरूआत करते हुए बताया कि स्टार परियोजना अभियान के अंतर्गत स्कूल ड्रापआउट, नाबालिक गुमशुदा बच्चों, बंधुआ बाल श्रमिकों का पता लगाकर निकटतम पुलिस थाने के बाल कल्याण अधिकारी को सूचित करने तथा इनको शिक्षा से जोड़ने, पुनर्वासन तथा परिजनों से मिलवाने के लिए समुदाय में जागरूकता लाने तथा एक्शन एड की ओर से हितधारको के सहयोग से बालश्रम व मानव तस्करी मुक्त गाँव बनाने के लिए चलने वाला यह अभियान है।

विभिन्न संगठनों के प्रतिनिधियों ने भी रखे विचार

कार्यशाला का संचालन करते हुए जिला प्रोबेशन अधिकारी प्रवीण कुमार त्रिपाठी ने बच्चों के लिए चल रही विभागीय योजनाओं और बाल संरक्षण तंत्र की जानकारी साझा की। बाल संरक्षण अधिकारी निरूपमा सिंह ने समिति के कार्यों के बारे में बताया। इस अवसर पर विभागीय अधिकारियों सहित विभिन्न संगठनों के प्रतिनिधियों ने भी विचार रखे। मुख्य विकास अधिकारी ने सभी हिताधिकारियों से मिल-जुल और एकजुट होकर बाल संरक्षण पर कार्य करने पर जोर दिया। जया सिंह ने बाल संरक्षण मुद्दों पर गंभीर और संवेदनशील बनकर, राष्ट्र की निधि बच्चों का संरक्षण करें। कार्यशाला के अंत में एक्शन एड की ओर से कार्यक्रम में भागीदारी करने वाले हित धारकों को बालश्रम, मानव तस्करी रोकथाम हेतु फेज थ्री स्टार परियोजना का कैलेंडर देकर उक्त अभियान को सफल बनाने की अपील किया।

इनकी रही उपस्थिति

पुलिस अधीक्षक एवं विशेष किशोर पुलिस ईकाई के नोडल अधिकारी अनुराग दर्शन, सीएमओ, एसपी प्रोटोकॉल, विधि सह परीविक्षा अधिकारी, सहायक श्रम आयुक्त देवब्रत यादव, बेसिक शिक्षा अधिकारी राकेश सिंह, यूनिसेफ के मंडलीय सलाहकार प्रीतेश कुमार तिवारी, बाल कल्याण समिति के अध्यक्ष मनोज मिश्रा सहित विभिन्न विभागीय अधिकारी गण और विभिन्न संगठनों के प्रतिनिधि गण राजकुमार गुप्ता, अजय पटेल, हरीशचंद्र चौबे, गुरदयाल यादव, आदर्श यादव, राजेश राय, संतोष पाण्डेय, अरुण कुमार सिंह, रेखा श्रीवास्तव, अवधेश कुमार, नम्रता श्रीवास्तव, शबाना, संजय राज, प्रीति सरोज, रंजीत कुमार, पंकज कुमार शर्मा, रोहित कुमार, बिमल कुमार, विजय चौहान, विनोद कुमार, राजीव कुमार, राम सिंह वर्मा, मयंक कुमार मिश्रा, मोहित कुमार आदि।

Related posts

कोरोना से लड़ रहे भारत को मिला बुर्ज खलीफा का समर्थन, तिरंगे के रंग में रंगा

ktvvns

ममता फाउंडेशन द्वारा जरूरतमंदों मे खाद्य सामाग्री वितरित की गई

ktvvns

पुर्वांचल महिला व्यापार मंडल की बैठक

ktvvns

Leave a Comment

ब्रेकिंग न्यूज़