ktvvns
अन्य क्राइम/प्रशासन पूर्वांचल राजनीति संपादकीय

पंजाब जेल में रहना चाहता है मुख्तार

    || मुख्तार के स्थानांतरण में सहाबुद्दीन केस नजीर बना ||

सुप्रीम कोर्ट ने कुख्यात अपराधी सहाबुद्दीन के केस में दी गयी व्यवस्थओं को आधार बनाते हुए यु0पी0 के गैंग्सटर मुख्तार अंसारी को पंजाब के जेल से बाँदा जेल में भेजने के आदेश दिया।
कोर्ट ने राजीव रंजन उर्फ पापु यादव के केस को भी आधार बनाया । पप्पू  यादव पूर्व सांसद है और अदालत से बरी हो चुके है। ये दोनों केस 2005 और 2017 के है । कोर्ट ने दोनों को पटना से दिल्ली स्थानांतरित करवा दिया था।

जस्टिस अशोक भूषण और एस आर रेड्डी की पीठ ने 56 पन्नो के फैसलों में कहा कि भले ही अपराधी को स्थानांतरित करने के लिए अनुच्छेद 32 के तहत दायर की गई याचिकाएं विचारणीय न हो , लेकिन कोर्ट संविधान के अनुच्छेद 142 (पूर्ण न्याय के लिए सुप्रीम कोर्ट से मिली असाधारण शक्तिया) के तहत अपनी शक्तियो का इस्तेमाल करते हुए पूर्ण न्याय के वास्ते कैदी को जेल से स्थानांतरित करने का आदेश दे सकता है।

 

कोर्ट ने कहा था कि जेल मैनुयल में विचाराधीन कैदी का एक राज्य से दूसरे राज्य में स्थानान्तरित करने का प्रावधान नही है। लेकिन परिस्तिथियां मांग करती है और कानून के शासन को पूरी शक्ति के साथ चुनौती दी जाती है तो कोर्ट मूक दर्शक बनकर नही बैठ सकता । कैदी को एक राज्य से दूसरे राज्य में भेज सकते है।
कोर्ट ने कहा कि सहाबुद्दीन केस में मारे गए पत्रकार की पत्नी आशा रंजन की याचिका पर कोर्ट ने 2017 में अनुच्छेद 142 के तहत शक्तियो का इस्तेमाल कर सहाबुद्दीन को पटना की बेउर जेल से दिल्ली की तिहाड़ जेल में स्थान्तरित किया था।

कोर्ट ने कहा की इस केस में अंसारी ने पंजाब की जेल में रहते हुये डिफॉल्ट बेल के लिए भी आवेदन नही किया। जबकि चार्जशीट दायर नही हो पाने पर वह धारा 167 के तहत जमानत के लिए आवेदन कर सकता था, लेकिन उसने ऐसा नही किया। इससे यह साफ है कि वह पंजाब जेल में रहना चाहता है और यूपी में अभियोजन से बचना चाहता है।

 

 

|| साभार-हिन्दुस्तान ||

Related posts

CM योगी का सभी कलेक्टर – कप्तानों को आदेश, पढ़े क्या कहा मुख्यमंत्री ने…

ktvvns

बरेका में गहण स्वच्छता अभियान जारी

ktvvns

पूर्व विधायक अजय राय ने जम्मू-कश्मीर के बडगांम जिले में शहीद हुए विशाल पांडेय की बहनों से चौकाघाट हुकुलगंज स्थित आवास जाकर बंधवाए राखी

ktvvns

Leave a Comment