ktvvns
अन्य क्राइम/प्रशासन स्वास्थ

हेरिटेज हॉस्पिटल में इलाज के दौरान हुई लापरवाही के कारण हुआ निधन

रोहनिया। हेरिटेज हॉस्पिटल में बीते 29 अप्रैल को कोरोना संक्रमित चन्द्र कुमार सिंह का इलाज में लापरवाही के कारण हुए निधन के बाद परिजनों का हाल बेहाल है,मृतक की पत्नी प्रतिमा सिंह व दो वर्षीय मासूम अर्थव सहित माता पिता भाई सभी की रात रोते तड़पते गुजर रही है।प्राप्त जानकारी के मुताबिक 12 अप्रैल को चन्द्र कुमार की तबीयत खराब होने के कारण परिजन उन्हें भदवर स्थित हेरिटेज हॉस्पिटल में इलाज के लिए लाए थे जहाँ उपचार के दौरान 14 अप्रैल को उनका रिपोर्ट कोविड पॉजिटिव आ जाने से व आक्सीजन की कमी होने के कारण उन्हें आईसीयू में भर्ती कराया दिया गया था,बीते 29 अप्रैल देर शाम को इलाज के दौरान चन्द्र कुमार सिंह की मौत हो गयी।वही इसकी जानकारी जब परिजनों को हुई तो वह हॉस्पिटल में लापरवाही का आरोप लगाते हुए घण्टो हंगामा किया था जिसके बाद रोहनिया पुलिस ने पहुँचकर मामला शांत कराया और 25 हजार वापस कराते हुए मृतक के शव को परिजनों को सुपुर्द कर दिया था।पिता की मौत हो जाने के बाद दो वर्षीय मासूम अर्थव,पत्नी प्रतिमा सहित सभी परिजनों की नींद गायब हो गई है।और जब फोटो फ्रेम में पापा पापा बोल कर मासूम अपने पिता को ढूंढ रहा है तो सभी निःशब्द हो जा रहे उस मासूम को लोग कैसे क्या कह कर समझाये , किसी को समझ ही नहीं आ रहा वही मृतक की पत्नी का कहना है कि हमारे पति जब से एडमिट हुए थे तब से लेकर मौत होने के पूर्व तक वह वाट्सएप से पल पल की जानकारी दे रहे थे आक्सीजन की कमी को भी उन्होंने बताया और डॉक्टरों द्वारा हाथ पैर बाँधने का भी मैसेज भेज बचाने की गुहार लगायी थी हम लोग डॉक्टर से सम्पर्क करते रहे लेकिन किसी ने एक नही सुनी और अंत मे डॉक्टरों ने उन्हें मौत की नींद सुला ही दी।।वही इस बाबत उन्होंने पुलिस आयुक्त जिलाधिकारी तथा सीएमओ से जांचोपरांत दोषी डॉक्टरों पर कार्यवाही की माँग की।

Related posts

यू पी में बदला फिर नाईट कर्फ्यू जानिए कब क्या बदलाव हुए

ktvvns

रोहनियां विधानसभा के मदरवा गांव में महिलाओं ने किया विरोध

ktvvns

प्राचीन परम्पराओं के संरक्षण और संवर्धन हेतु काशी हिन्दू विश्वविद्यालय ने हमेशा ही एक अहम भूमिका निभाई है

ktvvns

Leave a Comment